Role of yoga, meditation in fighting COVID-19

Yoga- Corona

कोरोना महामारी को रोकने के लिए जहा विश्व में विकसित देश भी इस महामारी का इलाज करने की दवाई में रिसर्च कर रहे है और दावा  भी किया जा रहा है की इस साल के सितम्बर महीने तक (Sept. 2020) इस महामारी की vaccine बन जाएगी और बाजार में आने तक कम से कम छह महिने  का समय लग सकता है,

इसीलिए अब क्यों न योगिक क्रियाएं करवाकर सभी इम्यून पॉवर को बढाया जाए. ‘ध्यान योग केंद्र’ के अनुसार अगर सही मायने में देखा जाए तो – योग सिर्फ आसन तक सीमित नही है अपितु संपूर्ण दिनचर्या का समावेश है.

गौरतलब है की माननीय प्रधानमंत्री श्री मोदी जी ने योग की महत्ता पर प्रकाश डालते हुए हाल ही में कहा की , भारतीय योग का इतिहास 50000(पचास हज़ार) साल से भी पुराना है इसीलिए इस पर रिसर्च करने की गहन आवश्यकता है परन्तु किसी भी कारन से आज भारत जिस रिसर्च की क्षमता रखता है वह अभी तक नही हो पा  रही है और विदेशो में  हो रही भारतीय योग , आयुर्वेद पर रिसर्च वापिस भारत में ही आ रही है और हम अधिकांश तौर पर उसी रिसर्च को अपना base  बना कर रिसर्च कर रहे है .

इन सभी बातों को ध्यान में  रखते हुए एक बात स्पस्ट है की जो भी vaccine बनेगी वह मानव शरीर की कोशिकाओं (cells)  की रोग-प्रतिरोधक (immunity)  को इतना सुद्रढ़ बना देगी जिससे की covid-19 का अटैक का शरीर पर कोई प्रभाव नही होगा  या होगा तो जल्द ही रिकवरी भी हो जाएगी जैसी साधारण सर्दी-जुखाम  लगने पर होती है.

इसका  सीधा –सीधा मतलब यह है की  अभी जो भी संक्रमित हो रहा है उसकी शरीर की रोग-प्रतिरोधक (immunity) क्षमता, covid-19 के मुकाबले कम है और संक्रमण के बाद रिकवरी नही हो पाने से सांस  थम रही है परन्तु वही अगर कई cases पर गौर किया जाए तो कई बुजुर्ग (senior citizens)  भी संक्रमण होने क बावजूद रिकवरी  करके सही होकर घर जा रहे है – इसकी वजह ????

Corona

Immunity

हम लोग क पास vaccine न होने पर भी बुजुर्ग / बच्चे लोग तक सही हो रहे है ,  वजह साफ़ है की हम लोग अनजाने में ही योग के नियमों  का पालन कर रहे है (यम- नियम – आसन – प्राणायाम – प्रत्याहार – धारणा – ध्यान – समाधी ):

1 .  हम लोग स्वच्छता पर ज्यादा से ज्यादा ध्यान दे रहे है जो की (यम) में आता है

2 . Social Distancing  कर रहे है जो की नियम के अन्तर्गत आता है

 

इसके बाद जिन स्टेप्स (तरीकों) को अपनाने से शायद कोरोना वास्तव में किसी को भी शायद संक्रमित ना कर पाए और जो लोग संक्रमित हो चुके है और quarantine/isolation  में है वो भी फ़ास्ट रिकवरी कर के स्वस्थ होकर लौटे , आइये ध्यान देते है :

1 . कोरोना के डर से व्यक्ति के  स्टैमिना पर प्रभाव पड़ता है इसीलिए सबसे पहले , संक्रमित्  रोगी की सही डाइट हो.  संक्रमित  रोगी  कि  डाइट मे  विशेष तौर पर गर्म पानी पिलाते रहना शामिल है , और  जब योग एवम आयुर्वेद मिलकर काम करेंगे तो परिणाम अच्छे आने की गति में इजाफा होगा . जानते हैं आयुर्वेद (Ayurved) के बारे में :

Ayurveda also emphasis on yogic activity and says that :
  1. Several spices like dry ginger (Zingiber officinale), yashtimadhu (Glycyrrhiza glabra), nut-grass (Cyperus rotundus) rhizomes, khus (Vetiveria zizanioides), Indian sarsaparilla (Hemisdesmus indicus) roots, coriander (Coriandrum sativum), fennel (Cuminum cyminum) seeds, cinnamon (Cinnamomum verum) and catechu (Acacia catechu) barks that are popularly used in the kitchen are added as single or multiple agents to the boiling water and consumed as medication throughout the day.
    1. Warm liquids and oils are used as gargles (gandusha) or mouth rinses (kavala) to cleanse the mouth and throat thoroughly. This can also have a good systemic effect
    2. Turmeric (Curcuma longa) rhizome, yashtimadhu or liquorice (Glycyrrhiza glabra) stem, neem (Azadiracta indica) and catechu (Acacia arabica) barks and natural salt may be used to prepare medicated water/solutions for gargles/mouth rinse.
    3. Yoga texts recommend cleansing of the nasal passage with salt water (Jala neti)
    4. Ayurveda recommends the application of medicated oils made from butter oil (Ghee) and vegetable oils such as sesame or coconut in the nostrils. This may protect the respiratory tract from pathogen entry. This procedure known as nasya is well described in Ayurveda.
    5. The recommended daily diet includes fresh hot soups of vegetables (radish, trigonella leaves, drum stick vegetable pods) and pulses (lentils, green gram/mung beans, chickpeas) seasoned with spices such as ginger (Zingiber officinale), garlic (Allium sativum), cumin seeds (Cuminum cyminum), and mustard (Brassica nigra) seeds (black whole mustard).
    6. Rasayana, a specialty of Ayurveda, deals with measures for rejuvenation. Rasayana therapy comprises lifestyle, diet, and medicine that have properties to enhance growth, retard aging, induce tissue regeneration, and stimulate immunity.
    7. Several Rasayana botanicals described in Ayurveda are used in clinical practice for strengthening immunity. Like Withania somnifera (Ashwagandha), Tinospora cordifolia (Guduchi), Asparagus racemosus (Shatavari), Phylanthus embelica (Amalaki), and Glyceriza glabra (Yashtimadhu) are potential immunomodulators (भारत देश में रिसोर्सेज की कमी नही है , जरुरत है तो बस सही इस्तेमाल की)

2 . भारतीय योग जिसे पूरी दुनिया ने माना है – कहता है की मानव के शरीर में ही रोग-प्रतिरोधक क्षमता उत्पन्न करने की शक्ति विधमान है जरुरत है  तो बस पहचान कर उसे जगाने की , यह रोग- प्रतिरोधक शक्ति कैसे सुद्रढ़ बने की कोरोना तो क्या और कोई भी वायरस का संक्रमण नही फैले, आइये निम्न बिन्दुओ पर विचार करते है :

  • योग का सीधा सीधा सम्बन्ध स्वास से है और कोरोना संक्रमित रोगी की स्वास के रुकने से ही मौत हो रही है और इसीलिए वेंटीलेटर भी लगाये जा रहे हैं . और स्वास का सम्बन्ध फेफड़ो (Lungs) से है और ज्ञात हो की योगिक आसन में सीधा सीधा प्रभाव फेफड़ो पर भी पड़ता है , क्युकी नियमित सही तरीके से योग करने से फेफड़े मजबूत होते है , योग के बाद प्राणायाम आता है जो की पूरी तरह से स्वास को कंट्रोल कर लेता है , मतलब प्राण-वायु को अपने कंट्रोल में करने का सीधा – सीधा मतलब है की इम्यून सिस्टम को जबरदस्त मजबूत करना  और प्राणायाम के बाद जब ध्यान करते या लगाते है तो मस्तिष्क में उत्पन्न उर्जा से कोरोना जैसे महामारी यक़ीनन जड़ से समाप्त हो सकती है
  • यहाँ पर ‘ध्यान योग केंद्र’ का सुझाव है की संपूर्ण भारत में जो की कोरोना की कारण 3 जोंन में विभाजित है (लाल – red , ऑरेंज  और ग्रीन)  , सबसे पहले रेड जोन में सोशल डिस्टेंस मेन्टेन करते हुए – शारीरिक क्षमता अनुसार योग शिक्षकों द्वारा शरीर के जरुरत के अनुसार  योगिक क्रियाएं सही तरीके से (षट्कर्म – आसन – प्राणायाम – मैडिटेशन- मिताहार – इत्यादि)  कराई जाए तो यक़ीनन संक्रमण में लाभ मिलेगा. सही माएनो में अब योग शिक्षको की असली परीक्षा है .
  • For example –
    • By doing Bharmari – Nitric Oxide increases in Nasal passage which is responsible for immunity
    • See the glimpse of news in economic times , showing importance of Yoga and yogic activities in overcoming infection and stress caused by novel Corona virus.
  • The Harvard Medical School said in its latest health guideline that, yoga, meditation and controlled breathing are “some tried and true ways to relax”.The article ‘Coping with coronavirus anxiety’ was published this week.”Regular meditation is very calming. Many apps teach simple forms of meditation, such as Headspace or Calm,” wrote John Sharp, a board-certified psychiatrist on the faculty at Harvard Medical School and the David Geffen School of Medicine at University of Cal .. 
  • Read more at:
    https://economictimes.indiatimes.com/news/international/world-news/harvard-medical-school-recommends-yoga-meditation-to-deal-with-coronavirus-anxiety/articleshow/74646695.cms?utm_source=contentofinterest&utm_medium=text&utm_campaign=cppst

Conclusion :

Suggestion by ‘Dhyan Yoga Kendra’  for benefit of nation against novel Corona pandemic is:

  1. Make a team of expert Yoga teachers who can guide the volunteers and appoint such groups in morning 6-9 and evening 5-7 at the red zone of corona in-country
  2. Experts must have the capability of observing even minor changes in patients, which is must as patients may be of any age group and might be suffering from other diseases
  3. Solution for the corona in slums, chardiwari is to bring all of them in open space to do yogic kriyayen
  4. We salute to Police department, Medical Staff, Social Organization serving the nation to their best, sacrificing their own interest.
  5. We are ready and feel proud to serve our nation and feel happy if by some effort our Police, medical, NGO etc may get some more support.
  6. We belief that yes Yoga – Yogic activities has power to develop immunity in body which is much needed at present time.

The team of ‘Dhyan Yoga Kendra’ is ready for any sort of further discussion.

Thanking You.

 

Contact us for any detail:

 

www.dhyanyogakendra.com

www.facebook.com/dhyanyogakendra

www.instagram.com/fitdyk/

7014289144 ,9799097860

dhyanyogakendra@gmail.com

 

Past articles:

Keto Diet:

What is Keto Diet?(क्या होती है कीटो डाइट) Why its famous?तारे-सितारे क्यों अपना रहे है इसे ?

Online Yoga Classes:

https://dhyanyogakendra.com/yoga-online-classes-for-all-worldwide-by-dhyan-yoga-kendra/

 

Purchase Mask , Sanitizer for safety:

Purchase best quality mask for Corona online – PAN India available

 

Can Corona Cure by STEM Cells:

Corona will be cured by Stem Cells present in Body

 

What is POWER Yoga?:

पावर योग का सही तरीका सीखे- Patrika In Education & Dhyan Yoga Kendra

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.